Google+ Badge

Wednesday, 28 December 2016

जो हमने नज़रों से कह दिया

जो हमने नज़रों से कह दिया
वो तुमने सुना नहीं
वो हमने सुन लिया
जो तुमने जुबां से कहा नहीं 



सालिहा मंसूरी

0 comments:

Post a Comment