Google+ Badge

Saturday, 7 January 2017

खुशियाँ ही खुशियाँ हों

खुशियाँ ही खुशियाँ हों
दामन में आपके
रहें सलामत आप
और मंजिल हो सामने ----- 


सालिहा मंसूरी 

0 comments:

Post a Comment